Papa Status | Poem On Father In Hindi – 2020

Papa Status | Poem On Father In Hindi - 2020
Papa Status | Poem On Father In Hindi - 2020

Papa Status | Poem On Father In Hindi – 2020

अगर आप भी Papa status के लिए Poem on father in hindi सर्च कर रहे हैं, तो आपको आज Father status के लिए हम कई शायरियां share कर रहे हैं। ये poem on papa in hindi हमारे रचनाकारों ने लिखी है, जो हाल ही में उनके द्वारा लिखी गई है। अगर आपको पिता पर कविताएं पसन्द आये, तो अपने दोस्तों के साथ ज्यादा से ज्यादा जरूर शेयर करें।

बचपन से लेके आज तक कमी नहीं रखी,
हमारी आंख में कभी नमीं नहीं रखी,
जीते जी सब कुछ हमारे नाम कर दिया,
पिता ने अपने नाम एक ज़मीं नहीं रखी।

– कवि योगेन्द्र “यश”

दुनिया में आने पर पापा है हमारी पहचान,
मेरा साहस मेरी इज्ज़त और मेरा है सम्मान,
ले नहीं पाएगा कभी उनकी जगह कोई,
क्योंकि पापा तो है हमारे कुदरत का वरदान।

Papa Status | Poem On Father In Hindi - 2020
Papa Status | Poem On Father In Hindi – 2020

जिंदगी का हर फर्ज निभाया आपने,
और जिंदगी का हर कर्ज चुकाया आपने,
हमारी हर एक खुशी के खातिर,
अपना हर सुख पापा भुलाया आपने।

Papa Status 

एक शख्स मेरी जिंदगी में खास रहा है,
वो बनकर परछाई मेरे पास रहा है,
दी पहचान मुझे आने पर दुनिया में,
खुदा से भी ज्यादा उन पे विश्वास रहा है।

दु:खी जिंदगी में हमें कभी होने ना दिया,
कभी कांटों की सेज पर सोने ना दिया,
वो खुद रो पडे हमारे आंसू पौंछ कर,
पर हमें किसी चीज के लिए रोने ना दिया।

आसमान से सितारों ने भेजा है पैगाम,
खुदा की मोहब्बत है पिता का नाम,
हमारी भी इस दिल से है यही फरियाद,
जिंदगी की खुशियां उन्हें मिल जाए तमाम।

पिता की छवि में श्री राम नजर आता है,
कभी सुबह तो कभी शाम नजर आता है,
सोचता हूं किसके एहसान हैं मुझ पर,
फिर पिता का इकलौता नाम नजर आता है।

पिता के बिना जिंदगी वीरान होती है,
तन्हा सफर में हर राह सुनसान होती है,
जिंदगी में पिता का होना बहुत जरूरी है,
पिता की दुआ से हर मुश्किल आसान होती है।

जो कोशिश करने पर भी नाकाम होते हैं,
वो एक बिन बाप के बेनाम होते हैं,
जो दिन रात करते हैं मेहनत हमारे लिए,
वो क्यों बुढापे में हमारे गुलाम होते है।

– दिलप्रीत जसराज

Poem On Father In Hindi

Papa Status | Poem On Father In Hindi - 2020
Papa Status | Poem On Father In Hindi – 2020

माँ ममता की मूरत है तो,
पिता भी मेहनत की सूरत है,
इनके जैसा नहीं कोई दूजा,
पिता अज़ान पिता ही पूजा,
प्यारे और न्यारे पापा,
बच्चों के लिये दुलारे पापा,
सब बच्चों से करते प्रीत,
रहते हैं ये हमेशा विनीत,

Maa Shayari

Mata Pita Shayari

पिता को न तुम साधारण मानो,
इनका तुम समर्पण जानो,
बात पिता की टालना न भाई,
कहते हैं जिसमें है भलाई,
पिता को पूजे है जगत समूचा,
मानते हैं आकाश से ऊँचा,

यही जगत की है रीति,
समझाते हैं पिता सारी नीति,
बच्चों की भरते हैं थाली,
खुद की थाली रहती खाली,
राह में कभी जब आते शूल,
पिता बन जाते हैं फूल,

मेहनत भाती इनको दिनभर,
बच्चे तू जो चाहे वो कर,
जीवन इनका रहा हो चाहे खाली,
बच्चे की चाहते हैं रोज़ दीवाली,
जीते जी तुम इनका करो सम्मान,
पिता ही है अपना भगवान।

– सुनील धाकड़

बिना अम्बर के ये धरती सुनहरी हो नहीं सकती,
पापा के बिना ये दुनिया भी पूरी हो नहीं सकती,
जो खुद को ढूंढ़ ले खुद में वो हार नहीं सकता,
गुरु के बिना ये जीवन हमारा हो नहीं सकता।

– आनन्द पाल

आज की Hindi Poetry सिरीज़ में Papa status के लिए हमने poem on father in hindi आपके साथ शेयर की है। उम्मीद है आप भी father status के लिए father poems को जरूर use करेंगे। लेकिन ध्यान रहे रचना के साथ रचनाकार के नाम को भी credit दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here