Best Mulakat Shayari In Hindi For Status | Shayari On Mulakat

Mulakat Shayari
Mulakat Shayari

Best Mulakat Shayari In Hindi For Status | Shayari On Mulakat

आज हिंदी शायरी की कड़ी में हम Best Mulakat Shayari In Hindi पोस्ट Status के लिए लेकर आए हैं। दोस्तों प्यार में प्यार करने वाले जब दूर होते हैं, तो वो मुलाकात के लिए तरसते हैं। जब उनकी मुलाकात होती है, तो जैसे सूखे हुए पौधे पे भी फूल खिल उठते हैं। इसी feeling के साथ आज हमारे शायर ने मुलाकात शायरी लिखी है। इन शायरियों में मिलन के लिए ऐसे ऐसे भाव आपको पढ़ने को मिलेंगे, जो आपको आपके महबूब से मिलन के पल को ज़रूर याद दिला देंगे। उम्मीद है ये Shayari On Mulakat आपको जरूर पसन्द आने वाली है। अगर ये शायरियां आपको अच्छी लगे, तो अपने चाहने वालों को हर प्लेटफॉर्म पे Share ज़रूर करें।

Mulakat Shayari – लगा गले से पर मुलाकात न हुई

मुहब्बत में मुलाकातों का ऐसा दौर रहता है,
ज़ुबां खामोश रहती है दिलों में शोर रहता है,
तुम्हारे नाम लिख दी ज़िन्दगी मैंने फिर क्यों,
मेरी आगोश में रहकर कहीं तू और रहता है।

muhabbat me mulakato ka aisa daur rahta hai,
zuban khamosh rahti hai dilo me shor rahta hai,
tumhare nam likh di zindagi maine phir kyo,
meri aagosh me rahkar kahi tu aur rahta hai.

वफाओं का है चलन अधूरा,
उसमें अभी है ये फन अधूरा,
अभी अभी वो गया है देके,
हिज़्र मुकम्मल मिलन अधूरा।

wafao ka hai chalan adhura,
usme abhi hai ye fan adhura,
abhi abhi vo gaya hai deke,
hizr mukammal milan adhura.
Mulakat Shayari
Mulakat Shayari

तन्हाइयों से हमको निजात न हुई,
रात ही रात रही दिन की शुरुआत न हुई,
वादा निभाया मिलने भी वो आया,
आकर लगा गले से पर मुलाकात न हुई।

tanhaiyo se hamko nijat na hui,
rat hi rat rahi din ki shuruat na hui,
vada nibhaya milne bhi vo aaya,
aakar laga gale se par mulakat na hui.

– राजेह कनोजिया

Miss U Shayari In Hindi

Jalan Shayari In Hindi

चमन में भी कहीं पर गुल खिल न पाए,
जैसे भँवरे भी कलियों से मिल न पाए,
कम्बख्त बह रही थी हवा जब प्यार की,
हम पीपल के पत्ते होकर भी हिल न पाए।

chaman me bhi kahi par gul khil na paye,
jaise bhanvare bhi kaliyo se mil na paye,
kambakht bah rahi thi hava jab pyar ki,
ham pipal ke patte hokar bhi hil na paye.

मिलते रहो जब तक आप यहां जिंदा है,
एक दिन उड़ जाऐंगे जितने भी परिंदा है,
ये सोचकर कि इनका कहीं घर नहीं होगा,
हम अपनी गलती पर अब तक शर्मिंदा है।

milte raho jab tak aap yaha jinda hai,
ek din ud jayenge jitne bhi parinda hai,
ye sochkar ki inka kahi ghar nahi hoga,
ham apni galati par ab tak sharminda hai.

Mulakat Shayari In Hindi – मुलाकात होनी चाहिए

ख़त तो बहुत आए रूबरू बात होनी चाहिए,
जुगनू भी शरमा जाए ऐसी रात होनी चाहिए,
बहुत भटकी रूह ये शब भर यूं तो सपन सपन,
छू पाऊं तुझे अब ऐसी मुलाकात होनी चाहिए।

khat to bahut aaye rubaru bat honi chahiye,
juganu bhi sharama jaye aisi rat honi chahiye,
bahut bhataki ruh ye shab bhar yu to sapan sapan,
chhu pau tujhe ab aisi mulakat honi chahiye.

मैं मिलने गया जब नाजनी से उसके गांव में,
काफी देर तक खड़ा रहा इक पेड़ की छांव में,
मिलने न आने का सबब पूछा जब मैंने उनसे तो,
शरमाकर बोले जी कांटा चुभ गया था मेरे पांव में।

main milne gaya jab najani se uske ganv me,
kafi der tak khada raha ek ped ki chhanv me,
milne na aane ka sabab puchha jab maine unse to,
sharamakar bole ji kanta chubh gaya tha mere panv me.

– मिस्टर आकाश “दीवाना तेरा”

Emotional Shayari In Hindi

Sad Shayari In Hindi

इश्क में तुझसे मिलने के पलों की शुरुआत हो गई,
नैनों की तेरे नैनों से जिस दिन से मुलाक़ात हो गई,
तुम आये मुझसे मिलने पार्क में एक दिन सुबह सुबह,
जी भर के न देखा तुमको न जाने कब दिन से रात हो गई।

ishq me tujhse milne ke palo ki shuruat ho gayi,
naino ki tere naino se jis din se mulakat ho gayi,
tum aaye mujhse milne park me ek din subah subah,
ji bhar ke na dekha tumko na jane kab din se rat ho gayi.

आज अचानक सड़क पर एक हसीन वारदात हो गई,
जिसको बसाया वर्षों दिल में उससे मुलाक़ात हो गई,
वो आयी मेरे बेहद करीब अपने रकीब का पता पूछने,
देख मेरे होंठो की हँसी आँखों से उसके बरसात हो गई।

aaj achanak sadak par ek hasin vardat ho gayi,
jisko basaya varsho dil me usse mulakat ho gayi,
vo aayi mere behad karib apne rakib ka pata puchhne,
dekh mere hontho ki hansi aankho se uske barsat ho gayi.

Shayari On Mulakat – मुलाक़ात तो ज़रूरी है

दिल से बढ़कर इस दुनिया में कोई कागज़ात नहीं,
सादगी से बढ़कर इस दुनिया में कोई ज़ेवरात नहीं,
यूँ तो मिलते रहते हैं महबूब से हर रोज लेकिन,
पहली मुलाक़ात सी दुनिया में कोई मुलाकात नहीं।

dil se badhkar is duniya me koi kagazat nahi,
sadagi se badhkar is duniya me koi zevrat nahi,
yu to milte rahte hain mahbub se har roj lekin,
pahali mulakat si duniya me koi mulakat nahi.

– राम सिंगार “देवदूत”

अब एक ऐसी हसीं रात हो जाये,
दूर तो हूँ मैं फिर भी बात हो जाये,
ये मेरे दिल की ख्वाईश है मेरे यार,
कभी तो उनसे मुलाक़ात हो जाये।

ab ek aisi hasin rat ho jaye,
dur to hu main phir bhi bat ho jaye,
ye mere dil ki khwaish hai mere yaar,
kabhi to unse mulakat ho jaye.
Shayari On Mulakat
Shayari On Mulakat

ऐसी कौन सी मज़बूरी है सनम,
जिससे बनाई तुमने दूरी है सनम,
आख़िर कब तक तन्हा रहूं मैं भी,
एक मुलाक़ात तो ज़रूरी है सनम।

aisi kaun si mazburi hai sanam,
jisse banai tumne duri hai sanam,
aakhir kab tak tanha rahu main bhi,
ek mulakat to zaruri hai sanam.

एक ऐसी चाँदनी रात हो,
जहाँ मेरी जान मेरे साथ हो,
मुलाक़ात जब हो उनसे मेरी,
पूरे तब सारे मेरे जज़्बात हो।

ek aisi chandani rat ho,
jaha meri jaan mere sath ho,
mulakat jab ho unse meri,
pure tab sare mere jazbat ho.

मिलने को हम उनसे तरसते रहे,
आंसू आंखों से मेरे बरसते रहे,
मुलाक़ात तो उनसे हुई है मेरी,
बस उनसे बिछड़ने से डरते रहे।

milne ko ham unse taraste rahe,
aansu aankho se mere baraste rahe,
mulakat to unse hui hai meri,
bas unse bichhadne se darte rahe.

Mulakat Shayari Status – ठहर जा मुलाकात अभी बाकी है

ये तो दिन है अभी रात होनी बाकी है,
ज़रा रुको तो अभी बात होनी बाकी है,
सुनो मनोज को यूँ छोड़ के ना जाओ,
तुमसे एक और मुलाक़ात होनी बाकी है।

ye to din hai abhi rat honi baki hai,
zara ruko to abhi bat honi baki hai,
suno manoj ko yu chhod ke na jao,
tumse ek aur mulakat honi baki hai.

बेवजह निकल पड़े मिलने उस राह पर,
काश वो मिल जाये मुझे बस इस चाह पर,
अब जाके मेरे दिल की तमन्ना पूरी हुई है,
जब उनके लिए भी मुलाक़ात ज़रूरी हुई है।

bevajah nikal pade milne us rah par,
kash vo mil jaye mujhe bas is chah par,
ab jake mere dil ki tamanna puri hui hai,
jab unke liye bhi mulakat zaruri hui hai.

– मनोज शर्मा “एम एस”

All Types Hindi Shayari

2 Line Shayari In Hindi

ना मुलाकात होती ना आगे बात होती,
और ना तुम रूठती ना ये तन्हा रात होती।
ऐ खुदा बादल छटे चांदनी रात हो जाए,
ख्वाब में जो आती है आज रूबरू मुलाकात हो जाए।

na mulakat hoti na aage bat hoti,
aur na tum ruthti na ye tanha rat hoti.
aye khuda badal chhate chandani rat ho jaye,
khwab me jo aati hai aaj rubaru mulakat ho jaye.

जब उनसे मुलाकात हो ख़ुशनुमा हालात हो,
सर महबूब की गोद मे फूलों की बरसात हो।
पिटा हूँ इतना जिस्म में अब दर्द अभी काफी है,
कुछ दिन और ठहर जा मुलाकात अभी बाकी है।

jab unse mulakat ho khushnuma halat ho,
sar mahbub ki god me phoolo ki barsat ho.
pita hu itna jism me ab dard abhi kafi hai,
kuchh din aur thahar ja mulakat abhi baki hai.

– कैलाश वशिष्ठ “के सी”

Conclusion : तो प्यारे Readers आज हमने Best Mulakat Shayari हिंदी में पेश की। इन शायरियों में प्रेमी के मिलन की आस को एक अच्छे तरीके बखूबी बयां किया गया। हमारे शायर ने बढ़ चढ़कर अपनी कलम को मुलाकात शायरी के लिए चलाया। एक प्रेमी अपने चाहने वाले से दूर रहकर मुलाकात के लिए क्या भाव रखता है ये इनमें बताया गया। उम्मीद है ये हिंदी शायरी का संग्रह आपके दिल को छू गया होगा। इन पे आपके मन में क्या विचार और फरमाइश है हमे कमेन्ट करके ज़रूर बताएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here