100+ Attitude Shayari In Hindi For Fb, Whatsapp | Shayari On Attitude

Attitude Shayari In Hindi
Attitude Shayari In Hindi

100+ Attitude Shayari In Hindi For Fb, Whatsapp | Shayari On Attitude

दोस्तों आज Hindi Shayari की कड़ी में हम 100+ Attitude Shayari In Hindi For Fb, Whatsapp लेकर आये हैं। ये शायरियां Latest है, जिन्हें हाल ही में हमारे शायरों की टीम के द्वारा लिखा गया है। इनमें एक एक शायरी इस कदर लिखी गई है कि आप हमेशा यहां Shayari On Attitude को पढ़ने के लिए आते रहेंगे और ये हमारा दावा है। इस पोस्ट की खासियत यही है कि यहां हर शायरी नई है, यहां आपको कॉपी की हुई नहीं बल्कि स्वरचित रचनाएं मिलती है। हमें पूरी उम्मीद है कि ये एटीट्यूड शायरियां आपको जरूर पसन्द आने वाली है। अगर आपको ये शायरी संग्रह पसन्द आये, तो Share करना बिल्कुल ना भूलें।

Attitude Shayari – ना बन यूं खुदगर्ज हमेशा

बचकर कहाँ जाओगे मैं तो चारों ओर हूँ,
मैं बाहर का नहीं तुम्हारे अंदर का शोर हूँ।

bachkar kaha jaoge main to charo or hu,
main bahar ka nahi tumhare andar ka shor hu.

जो सिर्फ अंधकार में जले वो दिया नहीं हूँ मैं,
अंदर का प्रकाश हूँ बाहर से किया नहीं हूँ मैं।

jo sirf andhkar me jale vo diya nahi hu main,
andar ka prakash hu bahar se kiya nahi hu main.

आकाश में जितने भी ये तारे हैं सब हमारे हैं,
तुम रात हो ना इसलिए ये तुम्हारे पहरेदार हैं।

aakash me jitne bhi ye tare hain sab hamare hain,
tum rat ho na isliye ye tumhare pahredar hain.

मुझसे मत उलझो मैं आजकल बहुत गंभीर हूँ,
जिगर पार कर जाऊंगा मैं टूटे धनुष का तीर हूँ।

mujhse mat ulajho main aajkal bahut gambhir hu,
jigar par kar jaunga main tute dhanush ka tir hu.
Attitude Shayari In Hindi
Attitude Shayari In Hindi

अखबार नहीं बनना जो रोज़ बदलता रहता है,
कहानी का सार बनना है जो चलता रहता है।

akhbar nahi banna jo roz badalta rahta hai,
kahani ka sar banna hai jo chalta rahta hai.

जब तुमने कहा बदल गए हो हां बदल गया हूँ,
मैं शांत झोंका था अब तूफानों में ढल गया हूँ।

jab tumne kaha badal gaye ho han badal gaya hu,
main shant jhonka tha ab tufano me dhal gaya hu.

ये सत्य है तुम नित सदा मेरे अन्तस के सूक्ष्म प्राण थे,
तुम हमें पहचान नहीं पाए हम धनुष से निकले बाण थे।

Boys Attitude Shayari

Attitude Status In Hindi

ye satya hai tum nit sada mere antas ke sukshm pran the,
tum hame pahchan nahi paye ham dhanush se nikle ban the.

नज़र नज़ारे साफ हो जाए तू गर मेरी आंखों का पानी बन जाए,
मैं सारी दुनिया को जीत लूं तू गर मेरे किरदार की कहानी बन जाए।

nazar nazare saf ho jaye tu gar meri aankho ka pani ban jaye,
main sari duniya ko jit lu tu gar mere kirdar ki kahani ban jaye.

– मिस्टर आकाश “दीवाना तेरा”

ना बन यूं खुदगर्ज हमेशा सिर्फ अपनी ही नेकी के लिए,
मुनासिब है झुकना भी कभी अपनों की तरक्की के लिए।

na ban yu khudgarj hamesha sirf apni hi neki ke liye,
munasib hai jhukna bhi kabhi apno ki tarakki ke liye.

बुलाकर महफ़िल में हमें एक यादगार शाम कर गई,
की जो मोहब्बत तन्हाई में सरेआम बदनाम कर गई।

bulakar mahfil me hame ek yadgar sham kar gayi,
ki jo mohbbat tanhai me sareaam badnam kar gayi.

Attitude Shayari In Hindi – साथ देना वाज़िब नहीं

हो गई ये भूल ख़ुदा को भी बनाकर के इंसान बना दिया,
सोचता होगा ये भी कि मैंने अकड़ का पुतला बना दिया।

ho gayi ye bhul khuda ko bhi banakar ke insan bana diya,
sochta hoga ye bhi ki maine akad ka putla bana diya.

देकर स्वाभिमान को नाम अभिमान का हुज़ूर करते रहे,
भूल अहमियत अपनी बेवजह क्यों गुरूर करते रहे।

dekar svabhiman ko nam abhiman ka huzur karte rahe,
bhul ahmiyat apni bevajah kyo gurur karte rahe.

पेश आए अदब से हम तो एक नादां समझ बैठे,
शराफत से मेरी वो मुझे ओछा इंसां समझ बैठे।

pesh aaye adab se ham to ek nadan samajh baithe,
sharafat se meri vo mujhe ochha insan samajh baithe.

तहज़ीब से रहना दोस्त तालीम सीखा देती है,
मिट्टी हो मिट्टी में मिलोगे ज़मीन सीखा देती है।

tahzeeb se rahna dost talim sikha deti hai,
mitti ho mitti me miloge zamin sikha deti hai.

ना रखना गुरूर कभी कोई तुम्हारा नहीं होगा,
डूब जाओगे भंवर में कोई किनारा नहीं होगा।

na rakhna gurur kabhi koi tumhara nahi hoga,
dub jaoge bhanvar me koi kinara nahi hoga.

जिंदा हो तो जिंदादिली रखो,
वक़्त पर खुद में तब्दीली रखो।

jinda ho to jindadili rakho,
waqt par khud me tabdili rakho.

वो मासूम ही था जो ज़ुबां पर रह गया,
मिला ख़ाक में वो जो गुरूर में रह गया।

vo masum hi tha jo zuban par rah gaya,
mila khak me vo jo gurur me rah gaya.

हासिल बुलंदी उसे ही जो झुकना जानता है,
बढ़ा कर कारवां आगे जो रुकना जानता है।

hasil bulandi use hi jo jhukna janta hai,
badha kar karva aage jo rukna janta hai.

– अनिल “बेजुबान”

कुछ लोग मैटर को ठहर के समझते हैं जबकि,
हमारे सामने मैटर आने से पहले ख़त्म हो जाते हैं।

kuchh log maitar ko thahar ke samajhte hain jabki,
hamare samne maitar aane se pahle khatm ho jate hain.

हम पे गर उंगलियां उठती है उसके कई कारण हैं,
हमने बेइमानों का साथ देना वाज़िब नहीं समझा।

ham pe gar ungaliya uthati hai uske kai karan hain,
hamne beimano ka sath dena vazib nahi samajha.

इस ज़माने में होश उड़ाने के लिए बस इतना काफी है,
जहां लोगों के काम पैसों से होते हैं वहा हमारे नाम से।

is zamane me hosh udane ke liye bas itna kafi hai,
jaha logo ke kam paiso se hote hain vaha hamare nam se.

Attitude Shayari Hindi Me – ज़रूरत उसे भी होगी

गर आप सोचते हो कि बीच में डर कर कम बोलते हैं,
तो आप गलत है शेर अक्सर शिकार शांति से करते हैं।

gar aap sochte ho ki bich me dar kar kam bolte hain,
to aap galat hai sher aksar shikar shanti se karte hain.

जिन्हें आप लोग सलाम ठोकते हैं,
वो कलाम पे हमारे जान दे देते हैं।

jinhe aap log salam thokte hain,
vo kalam pe hamare jaan de dete hain.

कितने दौर हमने गुजारे मुफ़लिसी में शान से,
तुम कहते हो दौलत का गुमान बहुत है हमको।

kitne daur hamne gujare muflisi me shan se,
tum kahte ho daulat ka guman bahut hai hamko.

हमारे किरदार की नकल करते हैं कुछ लोग,
मगर किरदार में अंदाज हम सा कहां पाएंगे वे।

hamare kirdar ki nakal karte hain kuchh log,
magar kirdar me andaj ham sa kaha paenge ve.

हमारे सामने वे बात करते हैं दौलत शोहरत की,
उतनी तो हम लोग को खैरात में बांट दिया करते हैं।

hamare samne ve bat karte hain daulat shohrat ki,
utni to ham log ko khairat me bant diya karte hain.

एटीट्यूड हमारा बेमिशाल है यारो,
हम तो रोज़ मरने के लिए जीते हैं।

attitude hamara bemishal hai yaaro,
ham to roz marne ke liye jite hain.

तन्हा हम किसी लड़की के लिए यूं होते नहीं,
ज़रूरत उसे भी होगी तो पास आ ही जाएगी।

tanha ham kisi ladki ke liye yu hote nahi,
zarurat use bhi hogi to pas aa hi jayegi.

– अम्बिका प्रसाद पाण्डेय “अंशु”

बहुत सोचा और बहुत समझाया,
तब जाके मंज़िल को है मैंने पाया।

bahut socha aur bahut samajhaya,
tab jake manzil ko hai maine paya.

जो लोग ये सोचेंगे कि वो मुझे गिरा देंगे,
ऐसे लोग ही मुझे मंज़िल तक पहुंचा देंगे।

Jalan Shayari In Hindi

jo log ye sochenge ki vo mujhe gira denge,
aise log hi mujhe manzil tak pahuncha denge.

मैं ये नहीं कहता कि आप मुझे हरा नहीं सकते हो,
पर ये ज़रूर कहूंगा की मैं आपसे हारने तक लड़ूंगा।

main ye nahi kahta ki aap mujhe hara nahi sakte ho,
par ye zarur kahunga ki main aapse harne tak ladunga.

Shayari On Attitude – पैर तो धरने दो

जिन्हें ये लग रहा है की मैं तूफ़ां से डर कर मुड़ जाऊंगा,
कुछ क़दम पीछे लूंगा पर तूफ़ां के ऊपर से उड़ जाऊंगा।

jinhe ye lag raha hai ki main tufan se dar kar mud jaunga,
kuchh kadam pichhe lunga par tufan ke upar se ud jaunga.

साहब मुझे तो मौत का है नहीं कोई डर,
क्योंकि समंदर के पास ही बसा है मेरा घर।

sahab mujhe to maut ka hai nahi koi dar,
kyonki samandar ke pas hi basa hai mera ghar.

लोग ये कहने लगे मुझे कि कायर हो तुम,
मेरे जज्बातों को सुन के बोले शायर हो तुम।

log ye kahne lage mujhe ki kayar ho tum,
mere jajbato ko sun ke bole shayar ho tum.

देखते ही दंग रह गये सब उस चिड़िया के हौसलें को,
जब बारीश में उसने वापस बना दिया अपने घोंसले को।

dekhte hi dang rah gaye sab us chidiya ke hausale ko,
jab barish me usne vapas bana diya apne ghonsale ko.
Shayari On Attitude
Shayari On Attitude

मैं चाहता तो उसी वक़्त तुम्हें अपनी औक़ात दिखा देता,
वक़्त ही नहीं था मेरे पास वरना सब कुछ तुम्हे सीखा देता।

main chahta to usi waqt tumhe apni aukat dikha deta,
waqt hi nahi tha mere pas varna sab kuchh tumhe sikha deta.

ख़ुद पर ज़्यादा घमंड ना कर बन्दे वरना सब रिश्ता तोड़ देंगे,
जो दूसरों की इज़्ज़त नहीं करता साथ उसका ख़ुदा भी छोड़ देंगे।

khud par zyada ghamand na kar bande varna sab rishta tod denge,
jo dusaro ki izzat nahi karta sath uska khuda bhi chhod denge.

मैं जब तक यहाँ जिंदा हूं तब तक हार नहीं मान सकता,
मेरे दुःख को मेरे दर्द मेरे अलावा कोई नहीं जान सकता।

main jab tak yaha jinda hu tab tak har nahi man sakta,
mere duhkh ko mere dard mere alava koi nahi jaan sakta.

– मनोज शर्मा “एम एस”

किस्मत पर नहीं हाथों पर विश्वास रखता हूँ,
पर है नहीं पर जह़न में आकाश रखता हूँ।

kismat par nahi hatho par vishvas rakhta hu,
par hai nahi par jahan me aakash rakhta hu.

रोको ना कोई मुझे थोड़ी दिल की करने दो,
चढ़ जाऊंगा पहाड़ देखो पैर तो धरने दो।

roko na koi mujhe thodi dil ki karne do,
chadh jaunga pahad dekho pair to dharne do.

पीछे हटना नहीं अगर चल दू तो सोच कर कदम रखता हूँ,
टकराना है जब पहाडों से फौलाद का जिगर रखता हूँ।

pichhe hatna nahi agar chal du to soch kar kadam rakhta hu,
takrana hai jab pahado se faulad ka jigar rakhta hu.

Shayari On Attitude In Hindi – नामो निशान छोड़ जाऊंगा

बातों की नहीं कुछ करने की जिद्द है मेरी,
मीलों तक देख लेने की नज़र गिद्ध है मेरी।

bato ki nahi kuchh karne ki jidd hai meri,
milo tak dekh lene ki nazar giddh hai meri.

कहने को हूं कलम छोटी सी पर इतिहास लिखती हूं,
लगाये कोई कितना भी मोल कभी देखा है बिकती हूं।

kahne ko hu kalam chhoti si par itihas likhti hu,
lagaye koi kitna bhi mol kabhi dekha hai bikti hu.

ट्रेफिक जाम है देख कर वापस नहीं मुड़ता हूं,
यारों मैं तो परिन्दा हूं आसमान में उड़ता हूं।

traffic jam hai dekh kar vapas nahi mudta hu,
yaaro main to parinda hu aasman me udta hu.

सोच लिया आसमान छूना है जब जिद्द पर चढ़ जाऊँगा,
तुम मुझे पानी समझते रहना मैं भाप बनकर उड़ जाऊंगा।

Sad Shayari In Hindi

soch liya aasman chhuna hai jab jidd par chadh jaunga,
tum mujhe pani samajhate rahna main bhap bankar ud jaunga.

– कैलाश वशिष्ठ “के सी”

आज गिरना मत देख मेरा कल मेरी उड़ान देखना,
हारने को कुछ नहीं कल जीतूँगा आसमान देखना।

aaj girna mat dekh mera kal meri udan dekhna,
harne ko kuchh nahi kal jitunga aasman dekhna.

मैं हवा हूँ जो कभी किसी के रोके रुकता नहीं,
मेरा हौसला है पर्वत जैसा जो कभी झुकता नहीं।

main hava hu jo kabhi kisi ke roke rukta nahi,
mera hausla hai parvat jaisa jo kabhi jhukta nahi.

हार कर भी फिर से जीतने का अरमान छोड़ जाऊंगा,
मैं खुशबू हूँ मिट कर भी नामो निशान छोड़ जाऊंगा।

har kar bhi phir se jitne ka arman chhod jaunga,
main khushbu hu mit kar bhi namo nishan chhod jaunga.

तू लाख कह ले ज़िन्दगी नहीं तुझको हराना मुमकिन है,
जब तक साँस रहेगी मुझे अपने हौसलों पर यकीन है।

tu lakh kah le zindagi nahi tujhko harana mumkin hai,
jab tak sans rahegi mujhe apne hauslo par yakin hai.

लाख कोशिश कर ज़माना मुझको हराने की,
ज़माना मेरी सुनेगा मैं क्यों सुनूँ ज़माने की।

lakh koshish kar zamana mujhko harane ki,
zamana meri sunega main kyo sunu zamane ki.

जीतने वालों के लिए हार का बहाना क्या है,
मोती के लिए गोता मारो किनारे नहाना क्या है।

Hindi Shayari

jitne valo ke liye har ka bahana kya hai,
moti ke liye gota maro kinare nahana kya hai.

– राम सिंगार “देवदूत”

Attitude Hindi Shayari – जिस्म गिरा है हौसला नहीं

ज़रा सी ऐश को हम भी झूठ में ढल जाए,
मेरी अना है तेरा इश्क़ नहीं जो बदल जाए।

zara si aish ko ham bhi jhuth me dhal jaye,
meri ana hai tera ishq nahi jo badal jaye.

तुम बदल गए तो कौन सा कमाल किया,
हम तो बदलते मौसम में भी खुश रहते हैं।

tum badal gaye to kaun sa kamal kiya,
ham to badalte mausam me bhi khush rahte hain.

मुझसे बिछड़ते वक़्त तुम्ही रोये थे,
हम तो जुगनू है हमे उजालों से क्या।

mujhse bichhadte waqt tumhi roye the,
ham to jugnu hai hame ujalo se kya.

यही फर्क है तेरे मेरे शौक़ में,
तू दिलों से खेलती मैं अपनी जाँ से।

yahi fark hai tere mere shauk me,
tu dilo se khelti main apni jaan se.

ये सच है तेरे आने से खुश हुआ था मैं,
ये जरूरी तो नहीं तेरे जाने पर ही गम करू।

ye sach hai tere aane se khush hua tha main,
ye jaruri to nahi tere jane par hi gam karu.

ग़म तो सर ही पटक कर चला गया,
मैंने होंठों पे मुस्कान क्या सजा ली।

gam to sar hi patak kar chala gaya,
maine hontho pe muskan kya saja li.

जिस दिन से हमने टूटना छोड़ा है,
पत्थरों ने अपना रहबर बना लिया।

jis din se hamne tutna chhoda hai,
pattharo ne apna rahbar bana liya.

मेरे गिरने को मेरी हार न समझो,
मेरा जिस्म गिरा है हौसला नहीं।

mere girne ko meri har na samajho,
mera jism gira hai hausla nahi.

साहिल की रेत समझकर ठोकर में न उड़ा,
हम वो है जो दरिया को समेटे हुए है।

2 Line Attitude Shayari

sahil ki ret samajhkar thokar me na uda,
ham vo hai jo dariya ko samete hue hai.

मंज़िल पे नज़र रख के मंज़िल नहीं मिलती,
सख्त राहों पे सफ़र की शुरुआत करनी पड़ती है।

manzil pe nazar rakh ke manzil nahi milti,
sakht raho pe safar ki shuruat karni padti hai.

– राजेश कनोजिया

Conclusion : तो दोस्तों, आज की इस पोस्ट में हमने 100+ Attitude Shayari In Hindi को पेश किया। ये शायरियां पढ़ने के बाद आपको खुद को यकीन हो गया होगा कि ऐसी यूनिक शायरियां आपको यहीं पढ़ने को मिल सकती है। इनमें आपने एक एक लाइन के भावार्थ को देखा होगा, जिससे मोटिवेट होने का भी गुण दिखाई देता है। उम्मीद है ये आपके दिल के पटल पर छप सी गई होगी। इन Shayari On Attitude से जुड़े आपके क्या विचार हैं, ये हमे comment box में ज़रूर बताइए। इस True Feel Hindi प्लेटफॉर्म का एक YouTube चैनल भी है, जहां आप Attitude शायरी वीडियो भी देख और सुन सकते हैं। उस चैनल का Link आपको हमारी वेबसाइट पर मिल जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here