30+ Aansu Shayari In Hindi | Dard Aansu Shayari | Aansu Sad Shayari

Aansu Shayari In Hindi
Aansu Shayari In Hindi

30+ Aansu Shayari In Hindi | Dard Aansu Shayari | Aansu Sad Shayari

Sad Shayari की शायरियों में आज हम 30+ Aansu Shayari In Hindi लेकर प्रस्तुत हुए हैं। दोस्तों जहां प्यार होता है वहां दर्द होता है और जहां दर्द होता है वहां आंसू भी ज़रूर होते हैं। बहते हुए आंसुओं की तकलीफ को लिख पाना बड़ा मुश्किल काम है। लेकिन फिर भी आज हमारे शायर ने आंसू पर कलम चलाई है। इन दर्द भरी शायरी में वो दर्द लिखा गया है, जो दर्द इंसान प्यार में सहता है। इन शायरियों में आंसू को पानी और समंदर के भरने जीतने आंसू आदि उपमाएं दी गई है। उम्मीद है ये शायरियां आपकी आंख में आंसू ज़रूर ला देगी। क्योंकि यहां ग़म के साथ ख़ुशी के आंसुओं की बात भी की गई है। अगर आपको ये Aansu Sad Shayari पसन्द नहीं आ रही हो, तो इस पोस्ट को Share ज़रूर करें।

Aansu Shayari – आंसू भी शिकायत करने लगे हैं

वो खुश है मुझे बर्बाद करके,
एक मैं रोता हूँ उसे याद करके,
आंसू भी शिकायत करने लगे हैं,
हमारी अब रब से फरियाद करके।

vo khush hai mujhe barbad karke,
ek main rota hun use yad karke,
aansu bhi shikayat karne lage hain,
hamari ab rab se fariyad karke.

इतना भी मत रखो हमें प्यार से,
गलतियां हो जाती है तेरे यार से,
यूं न बसाओ हमें पलकों पे फिर,
आंसू बनके निकलेंगे तेरे रुखसार से।

itna bhi mat rakho hamen pyar se,
galtiyan ho jati hai tere yaar se,
yun na basao hamen palakon pe phir,
aansu banke nikalenge tere rukhasar se.
Aansu Shayari In Hindi
Aansu Shayari In Hindi

इश्क से इतना भी मैं हारा नहीं होता,
गर किसी ने हद से गुज़ारा नहीं होता,
इक बेवफा को पलकों में बसाया था,
वरना आंसू इतना भी खारा नहीं होता।

ishq se itna bhi main hara nahin hota,
gar kisi ne had se guzara nahin hota,
ek bewafa ko palakon me basaya tha,
varna aansu itna bhi khara nahin hota.

Dard Bhari Shayari In Hindi

Zakhmi Dil Shayari Hindi

आंखों ने देखा आंखों में आंखें डालकर,
कितनी यादें रखी है अभी भी संभालकर,
चलो देखें आज आज़माकर इक दूजे को,
हम भी आसमां में अपने आंसू उछालकर।

aankhon ne dekha aankhon me aankhen dalkar,
kitni yaden rakhi hai abhi bhi sambhalkar,
chalo dekhen aaj aazmakar ek duje ko,
ham bhi aasman me apne aansu uchhalkar.

आंख का ये अदना आंसू मोतियों से कम नहीं,
कीमत वो क्या जाने जिसकी आंखें नम नहीं,
सींच रहे हैं यादों को आंसुओं की निज धारा से,
जिसके लिए टपक रहे हैं उसको कोई गम नहीं।

aankh ka ye adana aansu motiyon se kam nahin,
kimat vo kya jane jiski aankhen nam nahin,
sinch rahe hain yadon ko aansuon ki nij dhara se,
jiske liye tapak rahe hain usko koi gam nahin.

Aansu Shayari In Hindi – जब आंसू बहा रहा था मैं

पंछी घायल है कितना इसकी ये पांखें बता रहीं है,
घोंसला उजड़ा है इसका पेड़ की शाखें बता रही है,
लगता है बहुत कुछ खोया है इसने उन आंधियों में,
पलकें अभी भी भीगी है इसकी आंखें बता रही है।

panchhi ghayal hai kitna iski ye pankhen bata rahin hai,
ghonsla ujda hai iska ped ki shakhen bata rahi hai,
lagta hai bahut kuchh khoya hai isne un aandhiyon me,
palaken abhi bhi bhigi hai iski aankhen bata rahi hai.

– मिस्टर आकाश “दीवाना तेरा”

क्यों तू गई मुझको छोड़ के,
तुम चली गई दिल मेरा तोड़ के,
जब आंसू बहा रहा था मैं बहुत,
निकली मेरी गली से नजर मोड़ के।

kyon tu gayi mujhko chhod ke,
tum chali gayi dil mera tod ke,
jab aansu baha raha tha main bahut,
nikali meri gali se najar mod ke.

ना समझ मुझे तू कम कमजोर,
अभी मुझ में बहुत बाकी है जोर,
अगर इससे ज्यादा रो पड़ा मैं,
तो मच जाएगा शहर में शोर ही शोर।

na samajh mujhe tu kam kamjor,
abhi mujh me bahut baki hai jor,
agar isse jyada ro pada main,
to mach jayega shahar me shor hi shor.

जाने वाले तुझे किसने रोका है,
अभी जा तू निकल जा मौका है,
मैंने कभी तुझे रुलाया नहीं तो,
फिर तूने क्यों दिया मुझे धोखा है।

jane vale tujhe kisne roka hai,
abhi ja tu nikal ja mauka hai,
maine kabhi tujhe rulaya nahin to,
phir tune kyon diya mujhe dhokha hai.

– हिमांशु कुमार सागर

वो अक्सर कब्र पे आके मेरे मुझे बुलाया करते हैं,
मैं हूँ तो उनके दिल में फिर भी आंसू बहाया करते हैं,
कभी आते नहीं पास तो तस्वीर सहलाया करते हैं,
वो खुद भी रोते हैं और मुझे भी रुलाया करते हैं।

vo aksar kabra pe aake mere mujhe bulaya karte hain,
main hun to unke dil me phir bhi aansu bahaya karte hain,
kabhi aate nahin pas to tasvir sahlaya karte hain,
vo khud bhi rote hain aur mujhe bhi rulaya karte hain.

Dard Aansu Shayari – मेरे आंसुओं की क़ीमत

अब आग लगी है जिसके दिल में मेरे जाने से,
वो अपने ही आंसुओं से उसे बुझाया करते हैं,
ऐ मेरे ख़ुदा ये कैसा दस्तूर है इस जिंदगी का,
जो अपने नहीं वो अक्सर मिलने आया करते हैं।

ab aag lagi hai jiske dil me mere jane se,
vo apne hi aansuon se use bujhaya karte hain,
aye mere khuda ye kaisa dastur hai is jindagi ka,
jo apne nahin vo aksar milne aaya karte hain.

Jalan Shayari In Hindi

Yad Sad Shayari In Hindi

मेरे आंसुओं की क़ीमत तुम क्या जानोगी,
मुझमें कितनी है हिम्मत तुम क्या जानोगी,
अग़र तुमको जाना है तो चले जाओ यहाँ से,
मेरी कितनी है अहमियत तुम क्या जानोगी।

mere aansuon ki kimat tum kya janogi,
mujhmen kitni hai himmat tum kya janogi,
agar tumko jana hai to chale jao yahan se,
meri kitni hai ahmiyat tum kya janogi.

जनाब आजकल मैं अकेले ही यहाँ रोया करता हूं,
वो ख़्वाब में मिलेगी मुझे इसलिए सोया करता हूं,
एक वक्त था जब मेरी पलकें सुखी रहती थी हमेशा,
अब तो अपनी पलकों को आंसू से भिगोया करता हूं।

janab aajkal main akele hi yahan roya karta hun,
vo khwab me milegi mujhe isliye soya karta hun,
ek waqt tha jab meri palaken sukhi rahti thi hamesha,
ab to apni palakon ko aansu se bhigoya karta hun.

ना जाने सब क्यों ग़म दे जाते हैं,
जाते जाते ग़म में भी आज़माते हैं,
सबकुछ लूट गया हो हमारा जैसे,
फिर हम दर्द में ऐसे आंसू बहाते हैं।

na jane sab kyon gam de jate hain,
jate jate gam me bhi aazmate hain,
sabkuchh lut gaya ho hamara jaise,
phir ham dard me aise aansu bahate hain.

Aansu Sad Shayari – आंसू बहाकर बिस्तर पे सो पड़ता हूं

तुम्हारी याद में जब भी मैं रो पड़ता हूं,
कभी अकेले होता हूं तो खो पड़ता हूं,
कैसे बिताता हूं मैं दिन अपना अकेले,
आंसू बहाकर बिस्तर पे सो पड़ता हूं।

tumhari yad me jab bhi main ro padta hun,
kabhi akele hota hun to kho padta hun,
kaise bitata hun main din apna akele,
aansu bahakar bistar pe so padta hun.

सनम तुमने मुझे बहुत सताया है,
बोलो सताकर तुमने क्या पाया है,
तन्हाई में दिन तो मैंने अपने काटे हैं,
तुमने तो दूर होके मुझे रुलाया है।

sanam tumne mujhe bahut sataya hai,
bolo satakar tumne kya paya hai,
tanhai me din to maine apne kate hain,
tumne to dur hoke mujhe rulaya hai.

– मनोज शर्मा “एम एस”

यारों उसकी हँसी से मुक़द्दर लिखा मैंने,
वो साथ चला राह को भी घर लिखा मैंने,
मरने पे मेरे एक भी आंसू नहीं निकला,
एक उम्र जिन आंखों को समंदर लिखा मैंने।

yaaron uski hansi se muqaddar likha maine,
vo sath chala rah ko bhi ghar likha maine,
marne pe mere ek bhi aansu nahin nikla,
ek umra jin aankhon ko samandar likha maine.

तुम्हारी याद में जाना बहुत हम टूट कर रोये,
खताएं सोच कर हम तो खुदी से रूठ कर रोये,
हमारी जान जाने का नहीं अफसोस है मुझको,
तेरे एक जाने पे जाना बहुत हम फ़ूट कर रोये।

tumhari yad me jana bahut ham tut kar roye,
khataen soch kar ham to khudi se ruth kar roye,
hamari jaan jane ka nahin afsos hai mujhko,
tere ek jane pe jana bahut ham fut kar roye.

Aansu Hindi Shayari – आंसुओं का समंदर भर लिया

बस एक यही निशानी है,
आंखों में जो मेरे पानी है,
सांस मेरी थम गई है लेकिन,
अश्क़ में अब भी रवानी है।

bas ek yahi nishani hai,
aankhon me jo mere pani hai,
sans meri tham gayi hai lekin,
ashq me ab bhi ravani hai.

– राजेश कनोजिया

मुश्किल से खुशी के आते हैं आंसू,
गम में तो यूं ही निकल जाते हैं आंसू,
लोग चालाक होकर रोते हैं यहां पर,
जाने कहाँ से मगर के लाते हैं आंसू।

mushkil se khushi ke aate hain aansu,
gam me to yun hi nikal jate hain aansu,
log chalak hokar rote hain yahan par,
jane kahan se magar ke late hain aansu.

यूं आंसुओं को बहाया न करो,
अपने दिल को दुखाया न करो,
चूटकी में चले जाते हैं लोग यहाँ,
हर बात दिल से लगाया न करो।

yun aansuon ko bahaya na karo,
apne dil ko dukhaya na karo,
chutki me chale jate hain log yahan,
har bat dil se lagaya na karo.

सहना था जितना सह लिया मैंने,
तेरा इंतज़ार भी कर लिया मैंने,
तेरे इश्क में कई इम्तिहान दिये हैं,
आंसुओं का समंदर भर लिया मैंने।

sahna tha jitna sah liya maine,
tera intzar bhi kar liya maine,
tere ishq me kai imtihan diye hain,
aansuon ka samandar bhar liya maine.

Attitude Shayari Hindi

Patch Up Shayari In Hindi

ये दिल अपने आंसुओं को गिनता रहा,
अपने बिखरे हुए टुकडों को बिनता रहा,
टूट कर तार तार हो गई थी ये ज़िंदगी,
हौसला समेट कर हर दफा सिलता रहा।

ye dil apne aansuon ko ginta raha,
apne bikhre hue tukdon ko binta raha,
tut kar tar tar ho gayi thi ye zindagi,
hausla samet kar har dafa silta raha.

– कैलाश वशिष्ठ “के सी”

Sad Shayari Aansu – रोकने से रुकते नहीं आंसू

जब करना था इज़हार सारे लब ये सील गए,
लबों की बात तेरे आंसू मेरी आंखों से कह गए,
मोहब्बत के समुंदर में तेरे साथ बहते रहे हम,
टूटा दिल जब समंदर कई आंखों से बह गए।

jab karna tha izhar sare lab ye sil gayi,
labon ki bat tere aansu meri aankhon se kah gayi,
mohabbat ke samundar me tere sath bahte rahe ham,
tuta dil jab samandar kai aankhon se bah gayi.

हमने उनके आंसुओं को भावनाओं का समंदर समझा,
कहाँ ख़बर थी हमें की ये भी किसी से छल कर जाते हैं,
सात जन्मों का साथ निभाने की सोचता रहा हमेशा,
ठोकर खाकर जाना सदियों का ज़ख्म एक पल कर जाते हैं।

hamne unke aansuon ko bhavnaon ka samandar samjha,
kahan khabar thi hamen ki ye bhi kisi se chhal kar jate hain,
sat janmon ka sath nibhane ki sochta raha hamesha,
thokar khakar jana sadiyon ka zakhm ek pal kar jate hain.
Aansu Sad Shayari
Aansu Sad Shayari

बनना था सूरज मुझे उसने टूटा हुआ तारा कर दिया,
मेरी मीठी सी हँसी को आंसुओं ने खारा कर दिया,
सब ने कहा इश्क में ज़रा संभल के चलना यार,
उसकी बेवफ़ाई ने इश्क का खेल ख़त्म सारा कर दिया।

banna tha suraj mujhe usne tuta hua tara kar diya,
meri mithi si hansi ko aansuon ne khara kar diya,
sab ne kaha ishq me zara sambhal ke chalna yaar,
uski bewafai ne ishq ka khel khatm sara kar diya.

अक्सर ख़ुशी में कहने से मान जाते हैं ये आंसू,
ख़ुशी में भी मौजूदगी दिखाने से चूकते नहीं आंसू,
कोशिश तो बहुत की रोकने की पलकों ने “देवदूत”,
मगर गम में किसी के रोकने से रुकते नहीं आंसू।

aksar khushi me kahne se man jate hain ye aansu,
khushi me bhi maujudagi dikhane se chukte nahin aansu,
koshish to bahut ki rokne ki palakon ne "devdut",
magar gam me kisi ke rokne se rukte nahin aansu.

– राम सिंगार “देवदूत”

Aansu Sad Shayari In Hindi – आंखों से निकले आंसू

मुझसे रूठ कर तो मेरे अपने ही मुंह मोड़ गए,
पत्थर की ज़रूरत नहीं पड़ी अपने ही दिल तोड़ गए,
मेरा हाल पूछने वाले मुझे रुला कर चले गए दूर,
जिसे पौंछने थे आंसू वो उन्हें बहता ही छोड़ गए।

mujhse ruth kar to mere apne hi munh mod gaye,
patthar ki zarurat nahin padi apne hi dil tod gaye,
mera hal puchhne vale mujhe rula kar chale gaye dur,
jise paunchhne the aansu vo unhen bahta hi chhod gaye.

आंखों से निकले आंसू नदियों से बह गए,
चोट जो खाई दिल पे सारे दर्द सह गए,
दुःख बाट नहीं सकते तो देते क्यों हो,
ज़ख्म देकर मुझे I hate you कह गए।

aankhon se nikle aansu nadiyon se bah gaye,
chot jo khai dil pe sare dard sah gaye,
dukh bat nahin sakte to dete kyon ho,
zakhm dekar mujhe i hate you kah gaye.

– शनि सोनकर

आंखों से लहू है छलका मेरे बदन पर बना ये खारिश है,
नैनो का जो दोष है मेरे ये तो नैनो की ही बारिश है,
झुठला दिया इन कानों ने जो इन आंखों ने कभी देखा था,
टपक रही जो बूंदे आंखों से ये तेरी यादों की ही गुजारिश है।

aankhon se lahu hai chhalka mere badan par bana ye kharish hai,
naino ka jo dosh hai mere ye to naino ki hi barish hai,
jhuthla diya in kanon ne jo in aankhon ne kabhi dekha tha,
tapak rahi jo bunde aankhon se ye teri yadon ki hi gujarish hai.

जिस चीज़ के लायक था वो दिला दे मुझे,
मैं हूं बुरा सा ख्वाब एक तो भूला दे मुझे,
खुशी के लायक हूं तो मुस्कान दिला दे मुझे,
गर आंसू के लायक हूँ मैं तो रुला दे मुझे।

jis chiz ke layak tha vo dila de mujhe,
main hun bura sa khwab ek to bhula de mujhe,
khushi ke layak hun to muskan dila de mujhe,
gar aansu ke layak hun main to rula de mujhe.

Shayari On Aansu – आंखों के आंसू रुके नहीं थे

कहीं आग लगी थी अरमानों की तू पानी में उसे बहा आया,
मुड़ कर तो तू देख ले ज़ालिम तू पानी मैं आग लगा आया,
कह दिया जब तुमने मुझको अब अपना कोई मेल नहीं,
आंखों के आंसू रुके नहीं थे पर होंठो से मैं हँसा आया।

kahin aag lagi thi armanon ki tu pani me use baha aaya,
mud kar to tu dekh le zalim tu pani main aag laga aaya,
kah diya jab tumne mujhko ab apna koi mel nahin,
aankhon ke aansu ruke nahin the par hontho se main hansa aaya.

दरिया दिली तो इतनी देखी की दरिया भी सिमट आये,
उसकी आंखों की नमीं थी इतनी की सूरज भी बुझ जाये,
क्यों अच्छे दिल दहले यहाँ क्यों आंखों से नीर गिर पड़ा,
क्यों प्यार को मिली बेचैनी क्यों हर आशिक यहाँ पछताये।

dariya dili to itni dekhi ki dariya bhi simat aaye,
uski aankhon ki namin thi itni ki suraj bhi bujh jaye,
kyon achchhe dil dahale yahan kyon aankhon se nir gir pada,
kyon pyar ko mili bechaini kyon har aashik yahan pachhtaye.

बुझ जाते हैं चिराग यहाँ आंखों से जल न टपकाओ,
नींव यही है इस घर की तुम शीत नमीं न फैलाओ,
कितने भी सागर दिल में उमड़े पर इन लहरों को रोक लो,
माँ जब बैठी हो आगे फिर इन लहरों को न झलकाओ।

bujh jate hain chirag yahan aankhon se jal na tapkao,
niv yahi hai is ghar ki tum shit namin na failao,
kitne bhi sagar dil me umde par in lahron ko rok lo,
maa jab baithi ho aage phir in lahron ko na jhalkao.

– विनय कुमार दिवाकर

Conclusion : दर्द भरी शायरी के लिए हमने आज 30+ Aansu Shayari In Hindi पोस्ट की। इन शायरियों में प्यार के दर्द को आंसुओं के आधार पर बयां किया गया। इन शायरियों को पढ़कर आपको आंसुओं में क्या feeling छुपी होती है ये पता चली होगी। आपने Sad Shayari तो बहुत पढ़ी होगी, लेकिन आज की ये Aansu पर शायरियां कुछ अलग लगी होगी। हमारे शायर ने बहुत बेहतरीन तरीके से अपनी कलम को चलाया और बहुत ही उम्दा भाव व्यक्त किये। उम्मीद है आज की ये शायरियां आपको जरूर पसन्द आई होगी। अगर आपको आज की ये Aansu Sad Shayari अच्छी लगी हो, तो Share करना ना भूले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here