2 Line Shayari Status In Hindi | Two Line Shayari – 2020

2 Line Shayari Status In Hindi | Two Line Shayari - 2020
2 Line Shayari Status In Hindi | Two Line Shayari - 2020

2 Line Shayari Status In Hindi | Two Line Shayari – 2020

आज Hindi shayari की सीरीज में status के लिए 2 line shayari in hindi लेकर आये हैं। दोस्तों अगर आप भी whatsapp status के लिए two line shayari ढूंढ रहे हैं, तो आज हमारे शायरों ने खासकर आपके लिए ही लिखी है। आप इन two line ki shayari को जरूर पढ़ें और अपने दोस्तों के साथ जरूर ज्यादा से ज्यादा share करें। आपको ये दो लाइन शायरी कैसी लगती है comment box में जरूर बताएं।

2 Line Shayari Status In Hindi | Two Line Shayari - 2020
2 Line Shayari Status In Hindi | Two Line Shayari – 2020

ये दोनों के दिलों की शिकायत है,
शायद तुमको मुझसे बगावत है।

और मोहब्बत का हुनर है मुझ में,
इसलिए तू अभी तक सलामत है।

नफरत का कहर देखा नहीं तुमने,
हो सकता है दिलों की नजाकत है।

2 Line Status

फैसला हमारा भी हो सकता है ये,
पर मुझ में कहां इतनी ताकत है।

पागलों सा घूमता हूं तेरे खयालों में,
हरदम दिल में बस तेरी ही आहट है।

भुलाना तो उसी दिन से चाहा था,
ना भूला क्योंकि जिंदा चाहत है।

आंसुओं के गिनने में क्या हजार है,
एक भी देखें तो दिल को राहत है।

आसमान में बुलाता हूं अभी भी तुझे,
कुमार के खयालों में तेरा स्वागत है।

– हिमांशु कुमार सागर

करूँ खता या करूँ कोई ऐसा गुनाह,
कि मिल जाये माँ तेरी गोदी में पनाह।

माँ कपड़े ऐसे धोती है कि सारे दाग़ धूल जाते हैं,
कुछ कहती नहीं है फिर भी सारे राज खुल जाते हैं।

मेरे यहाँ होने की सिर्फ इतनी सी सच्चाई है,
जहाँ जाऊं मैं साथ चलती मेरी ही परछाई है।

क्यों तुम अपनी निगाहें मुझपे टिकाती हो,
कुछ तो बात है जो तुम मुझसे छुपाती हो।

2 Line Shayari Status In Hindi

ये महके फूलों की है या है तुम्हारी,
जो बस गई है दिलों जान में हमारी।

सुबह से शाम तक जुबां पे उनके ही चर्चे हैं,
जेब मे कुछ है नहीं फिर भी बढ़ रहे खर्चे हैं।

खींच कर तस्वीर तेरी बसा ली दिल में,
कुछ कहे बगैर शान बढ़ गई महफ़िल में।

2 Line Shayari Status In Hindi | Two Line Shayari - 2020
2 Line Shayari Status In Hindi | Two Line Shayari – 2020

हम तो पराये हो गए अपने ही सनम के लिए,
सिर्फ इस जनम नहीं बल्कि हर जनम के लिए।

जाओ कह दो उनसे की वो लौट आये,
अगर वो ना आये तो मुझे मौत आये।

एक दिन मैं ऐसा कुछ सीख जाऊंगा,
लग रहा कभी उसके हाथों बिक जाऊंगा।

कैसे कहूँ कि दिल मेरा कितना है बेचैन,
अब तो देखने को तरस गए हैं तुम्हें मेरे नैन।

– मनोज शर्मा (एम एस)

दुआओं का असर क्यों यहाँ कम होता है,
ऐ खुदा क्या तुझे भी कोई गम होता है।

घेर लेते हैं अक्सर मुझे हालत मेरे,
हल होने थे नहीं हुये सवालात मेरे।

दिल की लगी दिल खोलकर कह ले,
हमारा क्या हम तो ठहरे अहले गहले।

जिस तरह जीवन में सुबह शाम जरूरी है,
उसी तरह मेरे होठों पे तेरा नाम जरूरी है।

देखा जाए तो ये पूरी दुनिया बदल रही है,
परछाई ही है जो अब तक साथ चल रही है।

अभी वक्त से कुछ और नसीहतें उधार लूंगा,
ये वादा है मेरा मैं अपने आप को सुधार लूंगा।

कुछ नहीं बस यूँ ही पुराने लम्हों को याद कर के सोच रहा था,
सच तो ये है अपने ही हाथों से अपने जख्मों को नोच रहा था।

आज नहीं तो कल तुम्हें वह गुमनाम मिल ही जाएगा,
बस तुम राधा बनी रहना देखना श्याम मिल ही जाएगा।

मत पूछ मेरे सब्र की इन्तहा अब इस दिल को खैरात कहाँ,
नींद कहीं गुम हो गई पता नहीं चलता दिन कहाँ रात कहाँ।

– मिस्टर आकाश “दीवाना तेरा”

हर किसी के जीवन में एक ऐसा मोड़ आता है,
जहां इसांन खुद को बनाता है या तो मिटाता है।

उनसे बड़ी हसरतें हैं तुम्हें एक बात तो बताओ,
अहमियत अपने चाहने वालो को दी है कभी।

Two Line Shayari

हमारी हलातों पर बस इतना तुम सोचकर तो देखो,
वो ख्वाब में मिला था हकीकत में मिले तो क्या होगा।

सहम के मत बैठो यारो दरिया के मंझधार सी जिंदगी,
ये जिंदगी का सफर पूरा कर लो गहराई निकल गयी है।

इतनी चाहतों के बाद भी हमें कुछ मिला है,
वो नहीं हमें सिर्फ गमों का सिलसिला है।

भारत माता की अना की बात ही कुछ और है,
जितने कुर्बां होते उतने ही वीर आगे आ जाते हैं।

चाहतें बड़ी हो क्या फायदा मुकद्दर बड़ा होना चाहिए,
दे सको नि:स्वार्थ प्रेम जिसमें जिगर बड़ा होना चाहिए।

– अंशु

मयखाने में सब तेरे दिवाने हो गए,
क्या इतने बुलंद तेरे निशाने हो गए।

तेरे शहर के सब लोग मुझे यही कहते हैं कि,
तेरी आशिकी में दुनिया से हम बेगाने हो गए ।

घरों के गिरे हुए मलबे से यह पता चला है,
हमकों दफन हुए शायद कई जमाने हो गए।

वो दौरे मुहब्बत का फ़साना याद आता है,
वो कॉलेज में कोचिंग का जमाना याद आता है।

क्या राज है मुझमें बतायेगा कौन,
मेरे बाद तुझे इतना हंसाएगा कौन।

ख़ामखां खुद को वो तड़पाकर बहुत रोया,
जब जनाजे से मुझको उठा कर बहुत रोया।

फर्क नहीं पड़ता उसको मेरे होने या न होने से,
हजारों चाहने वाले थे जो डरते थे उसे खोने से।

आस्तीनों में यूँ कई साँप पाले गए,
तेरी महफ़िल से जब हम निकाले गए।

कुदरत के फैसले भी बड़े अजीब होते हैं,
उन्हीं से बिछड़ जाते हैं जो करीब होते हैं।

– शिवाजी सेन “गोल्ड”

आज की hindi shayari पोस्ट में आपको status के लिए 2 line shayari in hindi मिली। उम्मीद है कि ये two line shayari आपके दिल तक पहुंच गई होगी और अब तक आपने इसे share भी कर दिया होगा। ऐसी ही hindi shayari और hindi poetry के लिए हमारी वेबसाइट को ज़रूर subscribe करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here